मोदी-मॉरिसन शिखर वार्ता, भारत और ऑस्ट्रेलिया ने किए डिफेंस सहित सात समझौते

मोदी-मॉरिसन शिखर वार्ता, भारत और ऑस्ट्रेलिया ने किए डिफेंस सहित सात समझौते

क्राइम वीक न्यूज़ ब्यूरो: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष स्कॉट मॉरिसन के बीच शिखर वार्ता के बाद भारत और ऑस्ट्रेलिया ने सात समझौतों पर किए हस्ताक्षर। विदेश मंत्रालय कि सूचना के अनुसार भारत और ऑस्ट्रेलिया ने सैन्य ठिकानों और साजो-सामान के लिए ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।   

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को आस्ट्रेलिया के अपने समकक्ष स्कॉट मॉरिसन के साथ ऑनलाइन शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया था। इस ऑनलाइन शिखर सम्मेलन में स्वास्थ्य सेवा, कारोबार और रक्षा क्षेत्रों सहित द्विपक्षीय संबंधों के विविध आयामों को और मजबूत बनाने पर चर्चा की गई।

सिविल न्यूक्लियर सहयोग को बढ़ाने पर दोनों पक्षों ने सहमति जताई। ऑस्ट्रेलिया ने न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप में भारत की सदस्यता का समर्थन किया है। साथ ही यूएन सिक्यॉरिटी काउंसिल में भारत की स्थायी सदस्यता की वकालत की है। 

पीएम मोदी का मानना है कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के संबंधों को और सशक्त करने के लिए यह उपयुक्त समय, उपयुक्त मौका है और भारत और ऑस्ट्रेलिया की दोस्ती को और मजबूत बनाने के लिए भारत के पास असीम संभावनाएं हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ”कैसे हमारे संबंध अपने क्षेत्र के लिए और विश्व के लिए एक स्थिरता का कारक बनें, कैसे हम मिल कर वैश्विक बेहतरी के लिए कार्य करें, इन सभी पहलुओं पर विचार की आवश्यकता है।” 

प्रधानमंत्री ने कहा, “भारत ऑस्ट्रेलिया के साथ अपने संबंधों को व्यापक तौर पर और तेज गति से बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। यह न सिर्फ हमारे दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण है, बल्कि हिन्द प्रशांत क्षेत्र और विश्व के लिए भी आवश्यक है।

दोनों देशों के संबंध 2009 में सामरिक गठजोड़ के स्तर पर पहुंचे और यह पहला मौका है जब मोदी किसी विदेशी नेता के साथ आभासी शिखर सम्मेलन में हिस्सा ले रहे हैं।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच आर्थिक संबंध पिछले वर्षों में बढ़े हैं। पिछले कुछ वर्षो में भारत और आस्ट्रेलिया ने नौवहन सहयोग बढ़ाने पर भी ध्यान केंद्रीत किया है। 

ऑस्ट्रेलिया और भारत ने 2015 में पहला द्विपक्षीय नौसेना अभ्यास किया था। वर्ष 2017 में विदेश नीति पर श्वेत पत्र में आस्ट्रेलिया ने भारत को हिन्द महासागर के देशों में महत्वपूर्ण नौवहन शक्ति और ऑस्ट्रेलिया के अग्रिम सहयोगी के रूप में मान्यता भी दी थी। साथ ही साथ साल 2019 में बंगाल की खाड़ी में तीसरा अभ्यास हुआ था। ऑस्ट्रेलिया सीमा पार आतंकवाद के मुद्दे पर भारत के रूख का समर्थक भी रहा है।

 

 

क्राइम वीक न्यूज़ ब्यूरो: अमाया

CWNEWS

आपके लिए ख़ास

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share article

ताजा खबरें

नोएडा: ‘एल्गोज़िनी’ का रक्तदान शिविर संपन्न

क्राइम वीक न्यूज़ ब्यूरो: नोएडा, सेक्टर 62 स्थित आई-थम टॉवर में एल्गोज़िनी सर्विसेज के तत्वावधान में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। कंपनी के...

नोएडा के सेक्टर- 144 में बनेगा पार्क, जहां आप फर्नीचर पर बैठ कर ले सकते हैं स्ट्रीट फूड का मजा।

क्राइम वीक न्यूज़ ब्यूरो: नोएडा के सेक्टर 144 में 'वेस्ट टू वंडर' पार्क बनाया जाएगा। शहर से निकले हुए कचरे एवं प्लास्टिक से इस...

यूपी में आंगनवाड़ी के लिए निकली बंपर भर्तियां।

क्राइम वीक न्यूज़ ब्यूरो: यूपी सरकार की ओर से राज्य में 53,000 आंगनवाड़ी वर्कर, आंगनवाड़ी हेल्पर्स और मिनी आंगनवाड़ी वर्कर की भर्ती शुरू हो...

नोएडा: 2 अप्रैल को एल्गोज़िनी का रक्तदान शिविर

क्राइम वीक न्यूज़ ब्यूरो: नोएडा स्थित एल्गोजिनी सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के तत्वावधान में 2 अप्रैल (शुक्रवार) को रक्तदान शिविर का आयोजन किया जा रहा...

E-Newspaper

क्राइम वीक न्यूज़

हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें।

CWNEWS